महतारी वंदन योजना और 3100 रु धान तेंदुपत्ता 4000 रु बोनस को लेकर देखिये छत्तीसगढ़ Cm विष्णुदेव साय ने क्या? कहा..

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

महतारी वंदन और 3100 रु धान : छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी जारी है 31 जनवरी तक किसानों से धान की खरीदी की जाएगी। वर्तमान में किसानों को धान का समर्थन मूल्य 2183 प्रति क्विंटल का भुगतान सीधा किसानों के बैंक खाते में हो रहा है। धान बेचने के 2 से 3 दिन के भीतर ही यह पैसा सीधा किसानों के बैंक खाते पर सरकार ट्रांसफर कर रही है। छत्तीसगढ़ के किसानों को प्रति क्विंटल 3100 रु धान का इंतजार है। 

भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में किसानों को प्रति क्विंटल 3100 रुपए धान का दाम देने का वादा किया था। साथ ही भाजपा ने छत्तीसगढ़ के विवाहित महिलाओं को सालाना 12000 रु महतारी वंदन योजना के तहत देने का वादा भी किया था। इसके साथ ही तेंदूपत्ता 4000 रु बोनस देने का वादा भी भाजपा ने किया था। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने सभा को संबोधन करते वक्त इन योजनाओं के बारे में बताये है तो सब कुछ जानने वाले हैं आज की इस पोस्ट में तो बने रहिएगा। जानेंगे 3100 रु धान के बारे में मुख्यमंत्री साय ने क्या ? कहे है।

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के संबोधन :

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय कबीरधाम  जिले के बोड़ला विकासखंड के ग्राम कुसुमघटा में आयोजित किसान सम्मेलन एवं अभिनंदन कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के पहुचने पर क्षेत्रवासियों, ग्रामीणों ने उनका स्वागत किया। सर्वप्रथम मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथियों ने भगवान राम के तैल चित्र पर पूजा-अर्चना कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। 

इसे भी पढ़ें -  CG Open School Result: छत्तीसगढ़ ओपन 10वी 12वी रिजल्ट कल होगा जारी..

मुख्यमंत्री श्री साय ने अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री पद का दायित्व सम्हालने के बाद पहली बार कवर्धा आगमन हुआ है। इस अवसर पर आप सभी का स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा कि मोदी जी गारंटी के अनुरूप आप लोगों ने हम पर जो विश्वास किया है। मैं आप सभी को आश्वस्त करता हूं कि मोदी के गारंटी में जो वायदे किए गए हैं उसे पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल के गठन हुए एक महीना ही हुआ है और इतने कम समय में मोदी जी के गांरटी को पूरा करने की ओर कदम बढ़ा चुके है। 

किसानों के खाता में बकाया धान बोनस का भुगतान : 

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश में 18 लाख परिवारों को प्रधानमंत्री आवास की स्वीकृति दी। हमारी सरकार ने छत्तीसगढ़ के निर्माता पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के जन्मदिन सुशासन दिवस पर 02 वर्ष की धान की बोनस राशि 3 हजार 716 करोड़ रूपए 12 लाख से अधिक किसानों के खाते में अंतरित की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग (पीएससी) भर्ती मामले की सीबीआई जांच कराने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के शिक्षित युवाओं के साथ धोखाधड़ी करने वालों पर सख्ती से कार्यवाही की जाएगी। 

किसानों को मिलेगा प्रति क्विंटल 3100 रु धान का दाम..

मुख्यमंत्री ने कहा कि खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 में समर्थन मूल्य पर किसानों से प्रति एकड़ अधिकतम 21 क्विंटल धान खरीदी 3100 रूपए प्रति क्विंटल के मान से की जा रही है। उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य के अतिरिक्त अंतर की राशि जल्द ही किसानों के खाते में पहुंच जाएगी। किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। किसानों को मिलेगा 3100 रु धान का दाम, उन्होंने कहा कि महतारी वंदन योजना के लिए बजट में प्रावधान कर लिया गया है। प्रतिवर्ष 12 हजार रूपए की राशि माताओं के खाते में डाली जाएगी। 

इसे भी पढ़ें -  महतारी वंदन योजना में अगर कोई समस्या हो तो तुरंत लगाओ फोन.. समस्याओं के समाधान के लिए हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर जारी..

उन्होंने कहा कि तेंदूपत्ता की खरीदी 5500 रूपए में की जाएगी, इसके लिए 4000 रूपए बोनस का भी प्रावधान है। कार्डधारियों को 500 रूपए में सिलेंडर दिया जाएगा। भूमिहीन मजदूरों को प्रतिवर्ष 10 हजार रूपए प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी वायदों को मोदी जी की गारंटी में पूरा किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ भगवान श्री राम का ननिहाल, अयोध्या में भगवान श्री राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा पर मनाएं उत्सव: 

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया कहावत को चरितार्थ करना है। आज 18 जनवरी को भगवान श्री राम मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश किए है। इसके लिए आप सभी को बधाई। आने वाले 22 जनवरी को अयोध्या में भगवान राम मंदिर में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी। छत्तीसगढ़ माता कौशल्या की धरती है, भगवान श्री राम का ननिहाल वाला प्रदेश है। इसलिए हमको और अधिक खुशी के साथ उत्सव के रूप में मनाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे देश सहित छत्तीसगढ़ प्रदेश राममय है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 22 जनवरी को दीवाली के तर्ज पर सभी अपने घरों में दिया जलाएं। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आवहान पर मंदिरों में स्वच्छता अभियान के तहत साफ-सफाई करना है।

 


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!