छत्तीसगढ़ के इन किसानों को किया जाएगा सम्मानित देखिये छत्तीसगढ़ कृषि मंत्री श्री रामविचार नेताम ने क्या ? कहा..

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

छत्तीसगढ़ किसान समाचार : छत्तीसगढ़ कृषि मंत्री श्री रामविचार नेताम राजधानी रायपुर स्थित नेहरू उद्यान में आयोजित तीन दिवसीय फल-फूल और सब्जी प्रदर्शनी प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने इस मौके पर कहा कि फूलों की खेती सहित अन्य नवीन तकनीकी फसलों के उत्पादन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों को सम्मानित किया जाएगा। राज्य के अलग-अलग जिलों के प्रमुख लाभकारी और प्रमुख फसलों को चिन्हांकित कर बढ़ावा दिया जाएगा। 

छत्तीसगढ़ कृषि मंत्री श्री नेताम ने इस मौके पर फल-फूल और सब्जी प्रदर्शनी के विजेता प्रतिभागियों को प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया। मंत्री श्री नेताम ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश पहले फल-फूल और सब्जी के लिए दूसरे राज्यों पर आश्रित रहते थे। लेकिन राज्य के किसानों के परिश्रम और नये तकनीक से आज छत्तीसगढ़ में सब्जी, भाजी सहित अन्य फसलों की भरपूर उत्पादन हो रहा है। जिससे उद्यानिकी सहित अन्य फसलों में छत्तीसगढ़ को एक नई पहचान मिली है। 

छत्तीसगढ़ कृषि मंत्री श्री नेताम ने उद्यान में लगाए गए विभिन्न विभागों और निजी फर्मों के स्टॉलों का किया निरीक्षण : 

मंत्री नेताम ने कहा वर्तमान में यहां की फल-फूल और सब्जियां देश के अन्य राज्यों सहित विदेशों में भी निर्यात किए जा रहे हैं यह प्रदेश के लिए गर्व की बात है। मंत्री श्री नेताम ने इस मौके पर उद्यान में लगाए गए विभिन्न विभागों और निजी फर्मों के स्टॉलों का निरीक्षण किया। मंत्री श्री नेताम स्कूली बच्चों द्वारा तैयार किए गए भगवान श्री राम के प्राण प्रतिष्ठा समारोह और स्वामी विवेकानंद जी के कृतित्व पर आधारित रंगोलियों से काफी प्रभावित हुए। 

इसे भी पढ़ें -  छत्तीसगढ़ के इन किसानों को सरकार देगी 150 किलो मुफ्त चांवल, जाने विस्तार से

छत्तीसगढ़ कृषि मंत्री श्री नेताम प्रकृति की ओर सोसायटी सहित अन्य आयोजक मंडलों को उद्यानिकी के प्रति लोगों के रूझान के लिए संजीदगी से किए जा रहे कार्य की सराहना की। कार्यक्रम को कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल और प्रकृति की ओर सोसायटी के अध्यक्ष श्री मोहन वर्ल्यानी ने भी संबोधित किया। आयोजक मंडल द्वारा अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!