Msp क्या है ? कौन तय करता है फ़सलों का समर्थन मूल्य, कितने फ़सलों पर मिलता है एमएसपी? किसानों को msp का फायदा? 

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

समर्थन मूल्य Msp : आज हम जानेंगे समर्थन मूल्य के बारे में की क्या होता है समर्थन मूल्य(Msp) कौन इसको तय करता है और किस तरह से किसानों को समर्थन मूल्य का लाभ दिया जाता है। और एमएसपी यानी समर्थन मूल्य में कितने फसलों को जोड़ा गया है यानी कि कितने फसलों को समर्थन मूल्य एमएसपी में खरीदी करने का व्यवस्था किया गया है। 

एमएसपी के बारे में बहुत से किसान भाई अभी भी अनजान है उन्हें बस इतना पता है की फसलों का समर्थन मूल्य दिया जाता है। लेकिन फसलों का Msp एमएसपी कौन तय करता है? कितनी फसलों को तय किया जाता है। इस तरह के तमाम जानकारियां से अनजान होते हैं तो आज हम सारे जानकारी आज आप लोगों के साथ हम शेयर करने जा रहे हैं कि समर्थन मूल्य से किसानों क्या? फायदा है।  

क्या है समर्थन मूल्य (MSP) ? 

सबसे पहले जानते हैं क्या है समर्थन मूल्य? Msp यानी मिनिमम सपोर्ट प्राइस(minimum support price) जिसको हिंदी में न्यूनतम समर्थन मूल्य कहा जाता है।

इसके तहत सरकार किसानों द्वारा उगाए गए फसल के लिए एक दाम तय करती है, जिसे फसल पूरा होने के बाद जब किसान उस फसल को सरकार के पास बेचता है। यानी मंडी में बेचता है तो सरकार द्वारा उस फसल के लिए तय की हुई कीमत किसान को दी जाती है।

Msp का कौन तय करता है? कौन-कौन से फसलों को msp दिया जाता है ? आगे हम जानेंगे इसके पहले जानते हैं न्यूनतम समर्थन मूल्य का फायदा के बारे में।

इसे भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के बड़ा बयान.. जल्द किसानों को अंतर की राशि का होगा भुगतान..

किसानों को समर्थन मूल्य MSP का फायदा?

सरकार द्वारा किसानों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं और योजनाओं का मकसद यही रहता है कि हितग्राहियों को किसानों को योजना का लाभ मिले तो कुछ इस तरह से एमएसपी का भी उद्देश्य है कि किसानों को इसके लाभ मिले। Msp सरकार द्वारा किसानों को दिया जाने वाला एक आर्थिक भरोसा है। जिससे किसानों को फसल उगाने से पहले उसकी कीमत का अंदाजा हो जाता है कि उसे इस फसल की कितनी कीमत मिलेगी। 

किसानों को पता हो जाता है कि कौन से फसल लगाएंगे तो इसका कितना दाम मिलेगा और इससे हमको कितना फायदा मिल सकता है कितना लागत है फसल लगाने में कितना खर्चा होगा और यह जो फसल काटने के बाद इसको जब हम मंडी में बेचने जाएंगे तो सरकार हमको हमारे फसल का कितना दाम देगा इस तरह की जानकारी किसानों को पहले ही पता चल जाता है क्योंकि सरकार एमएसपी यानी कि Msp पहले तय कर दिया होता है। 

अकसर ऐसा होता था कि किसान ने फसल तैयार की लेकिन बाजार में उसकी मांग नहीं होने की वजह से किसान को उस फसल का सही दाम नहीं मिलता था, कभी-कभी तो किसान की फसल उगाने में लगी लागत भी नहीं निकलती थी। इस तरह मांग और सप्लाई को आसान बनाने के लिए सरकार किसान के फसल के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (Msp) तय करती है ताकि कुछ भी हो उस किसान को उस फसल के लिए कम से कम इतनी रकम तो मिलेगी ही।

कौन तय करता है फसलों की समर्थन मूल्य एमएसपी?

Msp का फायदा को जानने के बाद अब हम जानेंगे कि न्यूनतम समर्थन मूल्य एमएसपी में कुल कितने फसलों को जोड़ा गया है लेकिन इससे पहले जानते हैं कि न्यूनतम समर्थन मूल्य कौन तय करता है? 

इसे भी पढ़ें -  छत्तीसगढ़ : धान खरीदी का टूटा रिकॉर्ड 100 लाख मीट्रिक टन पार, कर्ज माफी और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से खेती की ओर लौटे किसान

केंद्र सरकार की कृषि मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली कृषि लागत और मूल्य आयोग (CACP) हर साल रबी और खरीफ फसलों के लिए MSP तय करती है। CACP के द्वारा कि जाने वाली सिफारिशों के आधार पर ही सरकार हर साल 23 फसलों के लिए एमएसपी का ऐलान करती है। 

CACP समय के साथ खेती की लागत के आधार पर फसलों की कीमत तय करके अपने सुझाव सरकार के पास भेजता है. सरकार इन सुझाव पर स्टडी करने के बाद एमएसपी की घोषणा करती है।

Msp में कौन से फसलों को शामिल किया गया है ? 

Msp की डिटेल जानने के बाद अब यह जानना जरूरी है कि आखिर कौन-कौन से फसलों को समर्थन मूल्य Msp में शामिल किया गया है। 

तो Msp में कुल 23 फसलों को शामिल किया गया है जिसका लाभ किसानों को दिया जाता है। उन 23 फ़सलों में से फसलों में से 7 अनाज, 5 दाल, और 7 तिलहन, और 4 कमर्शियल फसलें होते हैं जो की लिस्ट कुछ इस तरह से है। 

1. 7 अनाज – मक्का, ज्वार, बाजरा, धान, गेहूं, जौ और रागी होती हैं।

2. 5 दालें – मूंग, अरहर, चना, उड़द और मसूर होती है।

3. 7 तिलहन – सोयाबीन, तिल, सूरजमुखी, कुसुम, मूंगफली, तोरिया-सरसों, और नाइजर बीज होती है।

4. 4 कमर्शियल फसलें – कपास, खोपरा, गन्ना और कच्चा जूट होता है।

तो इस तरह से Msp का लाभ किसानों को दिया जाता है। ताकि किसानों के फसलों का सही दाम मिल सके। आज हम जाने की समर्थन मूल्य क्या है उसका लाभ क्या है? किस तरह से समर्थन मूल्य Msp का लाभ किसानों को दिया जाता है। समर्थन मूल्य कौन तय करता है एमएसपी की पूरी डिटेल जानकारी आज हमने आप लोगों के साथ शेयर की।

इसे भी पढ़ें -  छत्तीसगढ़ Cm साय का ऐलान! 3100 रुपये मिलेगा धान का दाम और 21 क्विंटल प्रति एकड़ होगी किसानों से धान खरीदी 

“छत्तीसगढ़ के विभिन्न योजना से जुड़ी अपडेटेड इनफॉरमेशन महत्वपूर्ण जानकारियां लगातार हम its chhattisgarh के माध्यम से आप लोगों को आगे भी पहुंचते रहेंगे इसलिए अपना प्यार और सपोर्ट चैनल के साथ बना कर रखिए।”

“तो भाई आप हमारे Youtube channel its chhattisagrh को subscribe करके रखिए साथ ही हमारा Teligram चैनल है उसको भी join करके रखिएगा।  इसके अलावा हमारा Whatsapp चैनल है। उसको भी आप join कर लीजिए इनका लिंक आप लोगों को ऊपर और नीचे post में दिख रहा होगा।”


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!