छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री ने की योजनाओं तथा विकास कार्यों की समीक्षा, किसानों के सुविधा के लिए योजना का हो बेहतर क्रियान्वयन

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

Chhattisgarh kisan news : छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के कैबिनेट का विस्तार हो गया है। अलग अलग विभागों के लिए मंत्रियों को जिम्मेदारी दी गई है। अब आने वाले समय में छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए किसानों के लिए योजनाओं की शुरुआत होने वाली है। इस बीच खबर आ रही है कि कृषि विकास एवं किसान कल्याण तथा जैव प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रामविचार नेताम ने अटल नगर नवा रायपुर स्थित मंडी बोर्ड के सभाकक्ष में वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग प्रदेश के किसानों और आम नागरिकों से जुड़ा महत्वपूर्ण विभाग है। किसानों की सुविधा और बेहतरी के लिए प्राथमिकता के साथ योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन किया जाए। 

 

सरगुजा में भी फर्टिलाईजर लैब की स्थापना : 

उन्होंने प्राथमिकता के तौर पर केन्द्रीय और राज्य प्रवर्तित योजनाओं का गुणवत्तापूर्वक और बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करने को कहा।समीक्षा बैठक में मंत्री श्री नेताम ने किसानों को पर्याप्त मात्रा में रासायनिक खाद उपलब्ध कराने के लिए अधिकारियों को विशेष पहल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि किसानों को गुणवत्तापूर्ण खाद उपलब्ध कराने सरगुजा में भी फर्टिलाईजर लैब की स्थापना की जाए। 

मंत्री श्री नेताम ने कृषि विभाग के अंतर्गत सभी संस्थाओं के लिए उपलब्ध जमीनों की पुख्ता जानकारी होने के साथ-साथ अवैध कब्जाधारियों पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रदेश के सभी विकासखण्डों में नर्सरी विकसित करने कार्ययोजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए।मंत्री श्री नेताम ने केसीसी ऋण की प्रगति की भी समीक्षा की। 

इसे भी पढ़ें -  छत्तीसगढ़ किसानों के लिए अच्छी खबर.. चलेगा किसान क्रेडिट कार्ड सप्ताह, इन समितियों में बनाए जाएंगे केसीसी (Kisan Credit card)   

 

किसान क्रेडिट कार्ड को लेकर प्रचार-प्रसार : 

कृषि मंत्री नेताम ने कहा कि अभी भी गांवों में विशेषकर आदिवासी अंचलों में सभी किसानों का क्रेडिट कार्ड नहीं बना है। योजना का प्रचार-प्रसार कर प्राथमिकता के तौर पर शत-प्रतिशत किसानों के क्रेडिट कार्ड बनाने की दिशा में काम किया जाए, ताकि सभी किसानों को योजना का लाभ मिल सके। 

उन्होंने किसानों के प्रशिक्षण पर भी विशेष बल दिया। मंत्री श्री नेताम ने कहा कि कृषि विज्ञान केन्द्र के साथ समन्वय कर ज्यादा से ज्यादा संख्या में किसानों को अलग-अलग फसलों की उन्नत कृषि के संबंध में प्रशिक्षण देने के भी निर्देश दिए।

 

योजनाओं तथा विकास कार्यों की समीक्षा :

मंत्री श्री नेताम ने कृषि विभाग के अंतर्गत संचालित प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, खाद्य एवं पोषण सुरक्षा योजना, कृषि या यांत्रिकीकरण योजना, रेन फेड डेव्हलपमेंट योजना, स्वायल हेल्थ मैनेजमेंट योजना, मिलेट मिशन, कृषि सिंचाई जल ग्रहण विकास योजना सहित उद्यानिकी विभाग, कृषि विकास एवं बीज निगम तथा मंडी बोर्ड की योजनाओं तथा विकास कार्यों की समीक्षा की।बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह, सचिव नगरीय प्रशासन डॉ. अय्याज फकीर भाई तंबोली, मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक श्री यशवंत कुमार सहित उद्यानिकी, वानिकी एवं कृषि बीज निगम के संचालक व अन्य विभागीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!