अयोध्या में आयोजित ‘‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा-रामोत्सव‘‘ छत्तीसगढ़ के जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर होगा भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन के लिए 1.14 करोड़ रूपए जारी देखें जिलेवार सूची.. 

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

रायपुर : छत्तीसगढ़ में भव्य एवं वृहद रूप से भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर किया जाएगा। राज्य शासन द्वारा इसके लिए राज्य के 146 विकाखण्डों में आयोजन के लिए एक करोड़ 14 लाख 25 हजार रूपए का आवंटन कलेक्टर के माध्यम से जारी किया गया है। अयोध्या में आयोजित ‘‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा-रामोत्सव‘‘

राज्य के संस्कृति संचालनालय के चिन्हारी पोर्टल में पंजीकृत विकासखण्ड स्तर पर मानस मंडलियों के भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए राशि का आवंटन किया गया है। यह राशि कलेक्टर के माध्यम से संबंधित पंजीकृत मानस मंडलियों को उपलब्ध कराई जाएगी। 

अयोध्या में आयोजित ‘‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा-रामोत्सव‘‘

ज्ञातव्य है कि 22 जनवरी 2024 को अयोध्या में आयोजित ‘‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा-रामोत्सव‘‘ के मद्देनजर राज्य भर में भव्य रूप से भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के निर्देश पर संबंधित जिला कलेक्टर को उक्त राशि आबंटित की गई है।

आवंटित राशि में से रायपुर, धमतरी, बेमेतरा, राजनांदगांव, कबीरधाम, दंतेवाड़ा, बीजापुर, बिलासपुर, सक्ती जिले को 3.25 लाख-3.25 लाख रूपए शामिल है। इसी प्रकार बलौदाबाजार-भाटापारा, गरियाबंद, महासमुन्द, बालोद, कोण्डागांव, जांजगीर-चांपा और कोरबा जिले को 3.75 लाख-3.75 लाख रूपए का आवंटन जारी किया गया है। 

दुर्ग, मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी, सुकमा, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही, मुंगेली, सारंगढ़-बिलाईगढ़, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले को 2.75 लाख-2.75 लाख रूपए, बस्तर, कांकेर, सरगुजा, रायगढ़ जिले को 4.75 लाख-4.75 लाख रूपए का जारी आवंटन शामिल है। खैरागढ़-छुईखदान-गंडई, नारायणपुर, कोरिया जिले को 2.25 लाख-2.25 लाख रूपए, बलरामपुर, सूरजपुर जिले को 4.25 लाख-4.25 लाख रूपए और जशपुर जिले को 5 लाख 25 हजार रूपए आवंटन भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें -  अयोध्या ‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘: पूरे छत्तीसगढ़ में 22 जनवरी को आयोजित होंगे भव्य भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने श्रीराम मंदिर परिसर में स्वच्छता अभियान के तहत झाड़़ू लगाकर की साफ-सफाई

मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने रविवार को राजधानी रायपुर के वीआईपी रोड स्थित श्री राम मंदिर परिसर में स्वच्छता अभियान के तहत झाड़ू लगाकर साफ-सफाई की। मुख्यमंत्री ने मंदिर पहुंचकर सबसे पहले प्रभु श्री राम के दर्शन किये और प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की। इसके बाद मुख्यमंत्री ने हाथों में झाड़ू लेकर मंदिर परिसर में सफाई की। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के आव्हान पर देश भर के मंदिरों, तीर्थस्थानों में स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने मंदिर परिसर में स्वच्छता अभियान के बाद चर्चा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के आव्हान पर श्री राम मंदिर परिसर में हम लोगों ने साफ-सफाई की है। मैं प्रदेश के नागरिकों से अपील करता हूं की वे भी मंदिरों एवं तीर्थस्थानों में स्वच्छता अभियान चलाएं। उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में श्री राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होगी वह दिन पूरी दुनिया के लिए महापर्व होगा। प्रभु श्री राम छत्तीसगढ़ केे कण-कण और जन-जन में बसे हुए हैं। छत्तीसगढ़ वही कोसल है जिसकी बेटी, माता कौशल्या ने भगवान राम को जन्म दिया। श्री राम ने दंडकारण्य को अपनी चरण रज से पवित्र किया। मॉ शबरी के बेरो की मिठास अभी तक छत्तीसगढ़ में घुली हुई है।

हमारे राज्य से रामलला के भोग के लिए सुगंधित चावल, फल सब्जियां इत्यादि भेजे गए हैं। राम भक्तों की सेवा के लिए छत्तीसगढ़ के डॉक्टरों की टीम भी अयोध्या गई हुई है। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ वासियों से अपील करते हुए कहा कि 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर सभी लोग अपने घरों को फूलों से सजाएं और दीप प्रज्जवलित करें।

इसे भी पढ़ें -  छत्तीसगढ़ के कण-कण में बसे श्री राम, यहां के लोग अपने भांजे को प्रणाम क्यों करते क्या है मान्यता ? प्रभु श्री राम से जुड़े छत्तीसगढ़ में कई ऐतिहासिक जगह…

स्वच्छता अभियान के अवसर पर धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल,  आदिम जाति विकास मंत्री श्री राम विचार नेताम, सांसद श्री सुनील सोनी, विधायक श्री पुरंदर मिश्रा, श्री अनुज शर्मा, श्री खुशवंत सिंह, एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!