छत्तीसगढ़ में किसान क्रेडिट कार्ड बनाने व पीएम किसान योजना के लिए लगेगा शिविर किसान भाई उठायें लाभ देखिये समय और तिथि 

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

Kcc Kisan Credit Card : किसान क्रेडिट कार्ड किसानों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि इसके जरिए किसान विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ ले सकते हैं। इसके साथ-साथ किसानों को कम ब्याज पर ऋण भी सरकार मुहैया कराती है। किसान क्रेडिट कार्ड के लाभ के बारे में आगे हम जानने वाले हैं । इसी तरह पीएम किसान सम्मान निधि योजना किसानों के लिए महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है योजना के तहत किसानों को सालाना 6000 रु की आर्थिक सहायता सरकार देती है। 

किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए व पीएम किसान योजना के आवेदन व जानकारी के लिए शिविरों का आयोजन होने जा रहा है। खबरें आ रही है कि कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी के निर्देशानुसार जिले में प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत विशेष पिछड़ी जनजाति के किसानों को शासन की महती योजनाओं से जोड़ने एवं लाभान्वित करने के उद्देश्य से कमार जनजाति वर्ग के किसानों के बसाहटों के समीप किसान क्रेडिट कार्ड बनाने एवं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिये 12 से 14 जनवरी तक शिविर आयोजित किया जा रहा है। 

अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नगरी ने बताया कि शिविर में अधिकारी, कर्मचारियों के दल द्वारा पीवीटीजी कृषकों का किसान क्रेडिट कार्ड, नवीन आधार कार्ड, बैंक खाता खोलना, बैंक खाता में आधार लिंक शत्-प्रतिशत करना सुनिश्चित किया जायेगा। शिविर में मुख्य रूप से लीड बैंक, उद्यानिकी, मत्स्य पालन, पशुधन विकास, सहकारिता विभाग और लोक सेवा केन्द्र के अधिकारी, कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे।

इसे भी पढ़ें -  किसानों के लिए खुशखबरी! आज इतने बजे खाता में आएगा धान बोनस प्रति क्विंटल 917 रु..  कृषक उन्नति योजना शुभारंभ

किसान क्रेडिट कार्ड के फायदे : 

वैसे तो किसान क्रेडिट कार्ड के कई फायदे हो सकते हैं पर हम आज कम शब्दों पर जानते हैं कि इससे किसानों को क्या-क्या फायदा मिल सकता है। इस योजना के लिए जानकारी कुछ इस तरह से सामने आ रही है। इस स्कीम के तहत किसानों को 4% ब्याज दर पर 3 लाख रुपये तक का लोन मिलता है। जिससे कर्ज चुकाने के लिए भी काफी फ्लैक्सिबिलिटी मिली हुई है. कर्ज का वितरण भी काफी आसानी से हो जाता है। 

यह क्रेडिट उनके पास 3 सालों तक रहता है, फसल की कटाई के बाद किसान अपना लोन चुका सकते हैं। सबसे अच्छी बात किसानों को 1.60 लाख तक के लोन पर कोई कॉलेटरल नहीं देना होगा। Benefits of Kisan Credit Card

Kcc बनाने किसानों को सुविधा :

किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए किसानों को बैंकों के चक्कर काटने पड़ते हैं कई तरह के परेशानी किसानों को झेलना पड़ता है। लेकिन अगर यही काम शिविरों पर हो तो काम आसान हो जाता है। किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन करने के लिए समय मिल जाता है और अधिकारी भी शिविरों पर रहकर किसानों को योजनाओं के बारे में समझाते हैं। किसानों को योजनाओं की जानकारी देते हैं और किस तरह से योजना का लाभ आप उठा सकते हैं इस पर भी जानकारी शिविरों के माध्यम से मिलता है।

तो इसलिए योजनाओं की जानकारी को के साथ ही योजना के लिए आवेदन करने के लिए शिविर आयोजन होता है। इस तरह सभी जिलों में किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए शिविरों का आयोजन होना चाहिए ताकि छत्तीसगढ़ के कोने-कोने के किसान भाई भी शिविरों पर आकर क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सके। और सरकार के इस योजना का लाभ उठा सकें।

इसे भी पढ़ें -  पैसा भुगतान सीधा किसानों के बैंक खाता में Msp धान खरीदी नई अप्डेट्स, छत्तीसगढ़ धान खरीदी रिकॉर्ड की ओर अग्रसर.. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार 12 जनवरी को सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक धमतरी जिले के नगरी विकासखण्ड के ग्राम कल्लेमेटा में शिविर आयोजित किया जायेगा, जिसमें ग्राम डोंगरडुला, राजपुर, कल्लेमेटा और बिलभदर के हितग्राही शामिल होंगे। इसी दिन दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक फरसियां में शिविर आयोजित किया जायेगा, जहां ग्राम घोरागांव, भैंसामुड़ा, मटियाबाहरा और धौराभाठा के ग्रामीण पहुंचेंगे। इसी तरह 13 जनवरी को सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक ग्राम आमगांव में आयोजित शिविर में ग्राम भुरसीडोंगरी, जैतपुरी, आमगांव के कमार आदिवासी पहुंचेंगे और दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक उमरगांव में लगने वाले शिविर में नवागांव सा. तथा उमरगांव के ग्रामीण शामिल होंगे। आगामी 14 जनवरी को सुबह 9 से शाम 5 बजे तक ग्राम कसपुर में शिविर लगाया जायेगा, जहां ग्राम कसपुर, बरबांधा और घुरावड़ के ग्रामीण सम्मिलित होंगे। इसी दिन दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक ग्राम फरसियां में शिविर लगेगा, जहां ग्राम जबर्रा, खरखा और फरसियां के ग्रामीण शामिल होंगे।


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!