किसानों के लिए इस बार 2024 में कैसे रहेगा मानसून ? Monsoon Rain Forecast News मानसून 2024 अप्डेट्स

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

मानसून 2024 : इस बार कैसा रहेगा मानसून 2024 ? इन दिनों मौसम में उतार चढ़ाव जारी है कभी बदली तो कभी धूप देखने को मिल रहा है छत्तीसगढ़ में कई जगहों पर बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि होने की खबरें भी आ रही है। ज्यादातर किसान बारिश पर निर्भर रहते हैं। किसानों को Mansoon का बेसब्री से इंतजार रहता है कि कब मानसून बरसेंगे और हम अपनी खेती किसानी को शुरुआत कर सकेंगे। तो इस बार Mansoon 2024 में कैसा रहेगा ? इसको लेकर जो खबरें आ रही है हम आप लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं तो पूरी पोस्ट पर बनी रहिएगा।

किसानों के लिए मानसून का महत्व 

किसानों के लिए मानसूनवर्षा का बड़ा महत्व है कई जगह मानसून के लिए पूजा पाठ किये जाते हैं ताकि पानी बरसे और किसान कृषि कार्य शुरू कर सके, किसान बारिश के द्वारा प्राप्त होने वाले पानी से खेतों में खड़ी फ़सलों की सिंचाई करता है। बिना मानसूनवर्षा के उन्हें अपनी फसलों को पानी देने के लिए समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, फ़सलों के लिए सिंचाई बहुत जरूरी है इसके बगैर फसल उत्पादकता में कमी आ सकता है और किसानों की आर्थिक स्थिति को प्रभावित कर सकता है। 

वर्षा के सहारे, किसान अच्छी खेती कर सकते हैं और अधिक उत्पादकता प्राप्त कर सकते हैं, और जाहिर सी बात है अच्छी फसल होती है तो आय बढ़ती है और जीवनस्तर भी सुधरता है, इस तरह किसान और Mansoon का बड़ा पुराना नाता रहा है। 

इसे भी पढ़ें -  मानसून खबर : 31 मई को केरल.. छत्तीसगढ़ में कब आयेगा ? Monsoon News

मानसून 2024 का पूर्वानुमान 

किसान भाइयों इस साल 2024 में मानसून कैसा रहेगा इसको लेकर खबरें अपडेट सामने निकल कर आ रही है बताया जा रहा है स्काईमेट ने मानसून का यह पूर्वानुमान जारी किया, जिसमें कहा गया है कि इस बार जून से सितंबर के बीच चार माह Mansoon के दौरान सामान्य से 102 प्रतिशत वर्षा होने की संभावना है।

स्काईमेट के प्रबंध निदेशक जतिन सिंह ने बताया कि अल नीनो कमजोर हो रहा है और ला नीना मजबूत हो रहा है। इसलिए इस वर्ष मानसून सामान्य रहने और दो प्रतिशत अधिक वर्षा होने की संभावना है। दक्षिण, पश्चिम और उत्तर पश्चिमी क्षेत्र में अच्छी वर्षा होगी।

कहाँ कैसे रहेगा मानसून ? 

बताया जा रहा है महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के प्रमुख मानसून वर्षा आधारित क्षेत्र में पर्याप्त वर्षा होने की संभावना है। जुलाई व अगस्त में जिस वक्त Mansoon चरम पर होता है उस दौरान बिहार, झारखंड, ओडिशा व पश्चिम बंगाल में वर्षा कम होने की संभावना है। उत्तर पूर्वी राज्यों में मानसून के शुरुआती आधे सीजन में Mansoon कमजोर रहने की संभावना है।

पिछले वर्ष से इस वर्ष कैसा रहेगा ?

किसान भइयों मानसून को लेकर स्काईमेट के विशेषज्ञ महेश पलावत ने बताया कि ला नीना मजबूत होने से पूर्वी प्रशांत महासागर क्षेत्र में तापमान कम और पश्चिमी प्रशांत महासागर क्षेत्र में तापमान अधिक होता है। ऐसी स्थिति में भारत में मानसून में अच्छी वर्षा होती है। इसलिए इस वर्ष Mansoon सामान्य रहने का पूर्वानुमान लगाया गया है। 

पिछले वर्ष अल नीनो के कारण वर्षा सामान्य से छह प्रतिशत कम हुई थी। Mansoon के दौरान चार महीने में देश में 868.6 मिलीमीटर वर्षा होती है। इस वर्ष 886 मिलीमीटर वर्षा होने की संभावना है।

इसे भी पढ़ें -  जानिये इस बार 2024 में नौतपा कब से शुरू होगा ? मौसम समाचार..

सारांश: किसान भइयों इस तरह इन दिनों मानसून को लेकर खबरें आ रही है जो कि खबर आज हम आप लोगों के साथ शेयर कर रहे थे। किसान भाइयों जैसे कि बताया जा रहा है इस बार Mansoon 2024 में Mansoon की स्थिति सामान्य बताया जा रहा है, अच्छी बारिश होने की संभावना जताया जा रहा है। अब देखना यह होगा कि जब मानसून आता है तब किस तरह की स्थितियां देखने को मिलता है, किसान भाइयों मानसून को लेकर यह एक पूर्वानुमान है। आगे Mansoon से जुड़ी खेती किसानी से जुड़ी अपडेट इनफॉरमेशन आप लोग के साथ शेयर करते रहेंगे। 

इसे भी पढ़े ताजा अप्डेट्स 

छत्तीसगढ़ टॉप काम की खबर.. इन जिलों में 11 अप्रैल तक बारिश की चेतावनी.. पहला चरण चुनाव की खबरें अप्डेट्स..

किसानों के लिए पेंशन योजना, मिलेगा 3000 रु.. कौन सी है योजना? जाने विस्तार से..

Google news पर पढ़े योजनाओं की अप्डेट्स

खेती किसानी योजनाओं की जानकारी आप लोगों को हमारे Youtube चैनल, Whatsapp चैनल, Telegram चैनल पर भी मिलेगा अभी नीचे के दिये बटन से आप भी जुड़ सकते हैं। 


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!