धान की खेती: खरीफ सीजन में होंगी धान की अधिक पैदावार किसान इन बातों का रखें ध्यान..

इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇

धान की खेती : जून का महीना शुरू हो गया है किसान भाई सब अपने-अपने खेतों की तैयारी पर जुट गए है नौतपा की भीषण गर्मी के बाद अब मानसून का इंतजार है और इस बार मानसून में अधिक बारिश होने की संभावना भी जताया जा रही है। देखा जाये तो धान की खेती मुनाफे वाली खेती होती है सरकार द्वारा धान पर समर्थन मूल्य जारी किया जाता है और कई राज्यों पर समर्थन मूल्य के अलावा अतिरिक्त अंतर की राशि भी देने की बातें कही जा रही है। 

इस तरह से किसान भाई धान की खेती अच्छी तरह से करके अधिक मुनाफा ले सकते हैं। आज हम जानेंगे कि खरीफ सीजन पर धान की खेती करते वक्त किसानों को किन-किन बातों को ध्यान में रखकर धान की खेती करनी चाहिए जिससे कि किसानों को धान की अधिक उपज प्राप्त हो सके और अधिक उपज होगा तो किसानों के आमदनी भी अधिक होने की संभावना बढ़ जाता है।

धान की नर्सरी 

किसान दो तरीके से धान की खेती करते हैं पहला सीधी बिजाई दूसरा रोपाई धान खरीफ सीजन की मुख्य फसलों में से एक है. ऐसे में खरीफ की फसल का समय शुरू हो गया है.  किसान धान की नर्सरी की तैयारी शुरू कर दिए हैं. वह धान की फसल की अच्छी पैदावार हो इसके लिए किसान तरह-तरह के उपाय करते हैं. जिससे कि धान की नर्सरी की उपज अच्छी हो. अगर नर्सरी की उपज अच्छी होती है, तो रोपाई के समय धान खेत में अच्छे पकड़ता है. How to set up a paddy nursery.

इसे भी पढ़ें -  मक्के की अधिक उत्पादन.. मक्के की खेती से बढ़िया आमदनी.. खाद सिंचाई खरपतवार बीज चयन कैसे करें..

कृषि वैज्ञानिक बताते हैं की धान की नर्सरी करते समय किसान उन्नतशील किस्म की प्रजाति के बीजों का चयन करें. जिसका पूर्ण रूप से जमाव हो साथ ही उसकी शुद्धता और स्वस्थ होने की प्रमाणिकता भी हो अंकुरित धान के बीजों को पक्षियों से बचाने के लिए उसे 2 से 3 दिन तक पुआल से ढका रहने दें, साथ ही धान की नर्सरी तैयार करने के लिए 8 मीटर लंबी एवं डेढ़ मीटर चौड़ी क्यारी बनाकर धान की नर्सरी तैयार कर सकते हैं।

धान की खेती के लिए सिंचाई 

धान की नर्सरी के लिए मिट्टी का विशेष ध्यान दें, बताया जाता है उच्च पोषक तत्वों वाली दोमट मिट्टी सबसे उपयुक्त होती है.  नर्सरी करने से पहले किसानों को सिंचाई की व्यवस्था दुरुस्त कर लेनी चाहिए. धान की खेती बिना सिंचाई के संभव नहीं है. Irrigation for paddy cultivation.

उचित मात्रा खाद उर्वरक उपयोग

कृषि विशेषज्ञ बताते हैं कि 1000 वर्ग मीटर में 10 क्विंटल गोबर की खाद ढाई किलोग्राम जिंक सल्फेट 10 किलोग्राम डीएपी खेत की जुताई से पहले मिट्टी में अच्छी तरह मिला ले. उसके बाद बीज की बुआई करें। ध्यान रखें कि 10 से 15 दिन बाद पौधे का रंग हल्का पीला हो जाए, तो 7 दिन के अंतराल पर दो बार 10 किलोग्राम यूरिया प्रति 1000 मीटर की दर से मिट्टी की ऊपरी सतह पर मिला दें, जिससे पौधे की वृद्धि अच्छी होगी. Dhan ki kheti kaise kare?

खरपतवार नियंत्रण कैसे करें? 

किसान भाई ध्यान दें अगर फसल पर खरपतवार का नियंत्रण करना चाहते हैं या फिर खरपतवार बहुत अधिक हो गया है तो उस स्थिति पर आपको उचित खरपतवार नियंत्रण करने वाली दवाइयां का आप उपयोग कर सकते हैं वैसे तो कई किसान भाई अपने हाथों से खरपतवार को निकालने का काम करते हैं पर इसमें अधिक समय लग जाता है। अभी के मौजूदा स्थिति के अनुसार किसान भाई खरपतवार नियंत्रण के लिए दवाइयां का सहारा लेते हैं अगर आप दवाइयां का सहारा ले रही है तो पहले आप यह सुनिश्चित कर ली कि यह दवाई आपकी फसल के लिए कितना सही है। 

इसे भी पढ़ें -  मुनाफा वाली फसल.. किसान इसकी भी खेती करके कमा सकते हैं लाभ..

कहने का मतलब कोई कृषि विशेषज्ञ या कोई जानकार से सलाह लें कि कौन सी फसल में कौन से खरपतवार दवाई का उपयोग किया जाना चाहिए।  आपका धान कौन सा किस्म का है आपके क्षेत्र का जलवायु कैसा है आपके क्षेत्र का मिट्टी कैसा है उसके अनुसार ही आपके क्षेत्र में खरपतवार नियंत्रण दवाई मिल रहा होगा इसीलिए जब भी आप खरपतवार नियंत्रण दवाई का इस्तेमाल करते हैं तो पूरी जानकारी दीजिए उसके बाद ही दवाइयां का उपयोग खेतों पर कीजिए। 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना मीडिया रिपोर्ट्स व विभिन्न सोर्स के जानकारियों पर आधारित है, इसलिए किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह अवश्य लें।

“its chhattisgarh छत्तीसगढ़ विभिन्न योजनाओं की जानकारी व अप्डेट्स आगे भी आप लोगों तक लगातार हर रोज पहुंचाते रहेंगे, हमारे Youtube चैनल, Whatsapp चैनल, Telegram चैनल पर भी रोजना अप्डेट्स मिलते रहेंगे, अभी नीचे के दिये बटन से आप भी जुड़ सकते हैं।”

इसे भी पढ़े ताजा अप्डेट्स 

चौथी क़िस्त आया कि नहीं कैसे देखें? महतारी वंदन योजना छत्तीसगढ़ cg mahatari vandan yojana 4th kist news

Google news पर पढ़े योजनाओं की अप्डेट्स


इस Post को आप Share भी कर सकते हैं 👇
error: Content is protected !!